भारत सरकार ने omicron वायरस के खतरे को देखते हुए 'AT-RISK'देशों से आने वाले यात्रियों के लिए जारी की गाइडलाइंस

Mon , 29 Nov 2021, 5:36 pm
भारत सरकार ने omicron वायरस के खतरे को देखते हुए 'AT-RISK'देशों से आने वाले यात्रियों के लिए जारी की गाइडलाइंस
AP,REPRESENTATIVE IMAGE

NEW DELHI-रविवार को भारत सरकार ने  कहा कि अंतरराष्ट्रीय आगमन को अब अपने 14-दिवसीय यात्रा इतिहास और वैध नेगेटिव आरटी-पीसीआर परीक्षण रिपोर्ट को एयर सुविधा पोर्टल पर अपलोड करना होगा, जो कि कोविड के ओमाइक्रोन संस्करण के बड़े खतरों के बीच भारत की अपनी यात्रा शुरू करने से पहले है। 
 
आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट 72 घंटे से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए। केंद्र ने अपने आदेश में यह भी कहा कि 'जोखिम में' श्रेणी के देशों से यात्रा करने वाले यात्रियों को आगमन पर परीक्षण से गुजरना होगा। 
 
यदि यात्री सकारात्मक परीक्षण करते हैं, तो उनके नमूने जीनोमिक अनुक्रमण के लिए INSACOG भेजे जाएंगे और उन्हें संस्थागत संगरोध के लिए भेजा जाएगा। यदि वे नकारात्मक परीक्षण करते हैं, तो उन्हें सात दिनों के लिए होम क्वारंटाइन में रहने के लिए कहा जाएगा, जिसके बाद वे 8 वें दिन परीक्षण करेंगे और अगले सात दिनों तक अपने स्वास्थ्य की निगरानी जारी रखेंगे।
 
गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने शुक्रवार को हांगकांग और इज़राइल को उन देशों की सूची में शामिल किया जहां से यात्रियों को भारत आगमन पर अतिरिक्त उपायों का पालन करना होगा। 
 
अधिकारियों के अनुसार, भारतीय SARS-CoV-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (INSACOG) नए संस्करण पर बारीकी से नज़र रख रहा है और देश में इसकी उपस्थिति का अभी तक पता नहीं चला है।इसके दक्षिण अफ्रीका, इजरायल, हांगकांग और बेल्जियम के नमूनों में पाए जाने की सूचना मिली है।
 
केंद्र ने यह भी कहा कि जोखिम वाले देशों से यात्रा नहीं करने वाले 5 प्रतिशत यात्रियों का भी यादृच्छिक परीक्षण किया जाएगा। 'जोखिम में' देशों के यात्रियों के लिए परीक्षण स्व-भुगतान किया जाएगा, जबकि यादृच्छिक परीक्षणों की लागत नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा वहन की जाएगी। 
 
दक्षिण अफ्रीका, चीन, यूनाइटेड किंगडम, यूरोपीय देशों, बांग्लादेश, ब्राजील, बोत्सवाना, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, हांगकांग, सिंगापुर और इज़राइल को सरकार द्वारा 'जोखिम में' सौंपे गए देश हैं।
 
कई देशों ने इस विकास के आलोक में यात्रा प्रतिबंधों को फिर से लागू करने की जल्दी की है।

अंतरराष्ट्रीय ख़बरें
Scroll To Top