फिल्म 'वूमेन ऑफ ऑनर: डेस्टिनेशन आर्मी' महिला सेना पर आधारित

Fri , 12 Mar 2021, 11:42 am
फिल्म 'वूमेन ऑफ ऑनर: डेस्टिनेशन आर्मी' महिला सेना पर आधारित

मुंबई: आधुनिक दुनिया में महिलाओं ने भारतीय सशस्त्र सेनाओं सहित कार्य के विभिन्न क्षेत्रों में प्रवेश किया है और उसमें उत्कृष्टता हासिल की है। आज भारत की महिलाएं भारतीय थल सेना में पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं। ऐसी महिलाओं की मजबूती और शक्ति का उत्सव मनाने के लिए, नेशनल जियोग्राफिक इंडिया अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर 8 मार्च को रात 9 बजे वूमेन ऑफ ऑनर सीरीज के तहत 'वूमेन ऑफ ऑनर: डेस्टिनेशन आर्मी' का प्रीमियर करेगा। नेशनल जियोग्राफिक इंडिया ऐसा ब्रांड है, जिसकी शक्तिशाली, गहन और विश्वसनीय ढंग से कहानी बयां करने की 130 से अधिक सालों की समृद्ध विरासत रही है।
 
44 मिनट की इस विशेष सीरीज में चेन्नई में ऑफीसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में दो महिला कैडेट्स की दिलचस्प कहानी का वृत्तांत पेश किया गया है। समाज की रुढ़िवादी परंपराओं को तोड़ने के उद्देश्य के साथ बनी इस फिल्म में यह दर्शाया गया है कि किस प्रकार सशक्त महिलाएं थल सेना अधिकारी बनने के लिए मानसिक, शारीरिक और हथियार ट्रेनिंग, ड्रिल, युक्ति, मानसिक विकास और लीडरशिप ट्रेनिंग के माध्यम से खुद में बदलाव लाती हैं और आगे बढ़ती हैं।
 
केविन वाज, प्रेसिडेंट एवं हेड इंफोटेनमेंट, किड्स एंड रीजनल एंटरटेनमेंट चैनल, स्टार एंड डिज्नी इंडिया ने कहा, "हमारी दमदार कहानी के साथ, हम हमेशा बड़े सवालों का पीछा करते हैं, मान्यताओं को चुनौती देते हैं और जिस तरह से हम हमारी दुनिया की एक धारणा रखते हैं और समझते हैं, उसमें बदलाव लाने की कोशिश करते हैं। हमारी अंतरराष्ट्रीय दिवस पर बनी स्पेशल फिल्म एक उदाहरण है कि किस प्रकार ⊃2;ढ़ संकल्प और जिद के साथ एक महिला क्या हासिल कर सकती है और इस फिल्म में हम ट्रेनिंग एकेडमी में दो महिला कैडेटों की अचम्भित कर देने वाली कहानी दर्शकों के सामने प्रस्तुत करेंगे। हम वूमेन ऑफ ऑनर सीरीज के माध्यम से इस प्रकार की प्रेरणादायी कहानियां पेश करने की कोशिश कर रहे हैं और हमें खुशी है कि इस कहानी को हमारे दर्शकों तक पहुंचाने के लिए भारतीय थल सेना और ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी ने हमें उनका सहयोगी बनने के लिए चुना है।"
 
इस फिल्म में भारतीय थल सेना अध्यक्ष जनरल एम. एम. नरवणे ने कहा, "90 के दशक के शुरूआती वर्षो में हमने महिलाओं को थल सेना में प्रवेश देना शुरू किया। पहले इस बात को लेकर कुछ आशंकाएं थी कि क्या वे काम का बोझ और सेवा की मांग को संभाल पाएंगी। आज मैं बेहद गर्व के साथ यह कह सकता हूं कि उन्होंने खुद को योग्य साबित किया है और उन्होंने उनको दिए गए सभी कामों को बखूबी अंजाम दिया है।"
 
'वूमेन ऑफ ऑनर: डेस्टिनेशन आर्मी' का प्रीमियर 8 मार्च, 2021 को रात 9 बजे नेशनल जियोग्राफिक चैनल पर होगा।
 
(Anjul Tyagi)

बॉलीवुड
Scroll To Top