सेल-बोकारो स्टील प्लांट में कैंटीन वेस्ट बायो-डाइजेस्टर का उद्घाटन

Sat , 10 Dec 2022, 3:45 pm
सेल-बोकारो स्टील प्लांट में कैंटीन वेस्ट बायो-डाइजेस्टर का उद्घाटन
Canteen Waste Bio Digester inaugurated at SAIL Bokaro Steel Plant

NEW DELHI- सेल  में 19 नवंबर से 18 दिसंबर तक पर्यावरण माह मनाया जा रहा है। पर्यावरण संरक्षण और स्थिरता के महत्व के बारे में जा सामान्य के बीच जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से, बोकारो स्टील प्लांट द्वारा इस दौरान कई पहल किए जा रहे हैं। इस दिशा में बोकारो स्टील प्लांट में उत्पन्न होने वाले कैंटीन कचरे के उचित निपटान के लिए अधिशासी निदेशक (संकार्य) श्री बी के तिवारी ने 8 दिसम्बर को अधिशासी निदेशक (संकार्य) कैंटीन के पास स्थापित 500 किलोग्राम प्रति दिन क्षमता वाले बायो-डाइजेस्टर का उद्घाटन किया।
 
इस अवसर पर अधिशासी निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) श्री संजय कुमार, अधिशासी निदेशक  (परियोजना)  श्री सी आर महापात्रा, सीजीएम (सेवाएं) श्री अनिल कुमार, सीजीएम (सीईडी) श्री शालिग्राम सिंह, सीजीएम (प्रोजेक्ट्स), श्री एन रे, सीजीएम (ईएमडी और यूटिलिटीज) श्री पी के बसाखिया, सीजीएम इंचार्ज (कार्मिक) श्री पवन कुमार,  सीजीएम (सी एंड ए) श्री बी सरतापे, सीजीएम (यांत्रिकी) श्री वी के सिंह,  महाप्रबंधक/पर्यावरण एवं सस्टेनेबिलिटी श्री एन पी श्रीवास्तव, महाप्रबंधक (कार्मिक-संकार्य) श्रीमती नीना सिंह इत्यादि भी उपस्थित थे।
 
बायो-डाइजेस्टर बोकारो स्टील प्लांट के अंदर कैंटीनों से पूरे संयंत्र में उत्पन्न होने वाले कैंटीन कचरे को प्रोसेस करने के लिए स्थापित किया गया है।
 
पुणे से मैसर्स झियोन वेस्ट मैंजर्स एलएलपी द्वारा आपूर्ति किए गए बायो-डाइजेस्टर प्लांट में खाद्य अपशिष्ट, सब्जियों के छिलके आदि जैसे जैविक कचरे के 500 किलोग्राम/दिन को प्रोसेस करने की क्षमता है और उत्पन्न होने वाली बायो-गैस का उपयोग अधिशासी निदेशक (संकार्य) कैंटीन में एलपीजी सिलेंडर के बदले खाना पकाने के लिए किया जा रहा है।
 
बायो गैस संयंत्र से उत्पन्न होने वाले स्लरी का उपयोग संयंत्र के भीतर बगीचों में खाद के रूप में किया जा रहा है। बायो-डाइजेस्टर प्लांट परियोजना की शुरुआत कार्मिक विभाग द्वारा किया गया था, एनवायरनमेंट और सेस्टेनेबिलिटी विभाग द्वारा समन्वित और परियोजना प्रभाग द्वारा निष्पादित किया गया है। 
 
इस अवसर पर अधिशासी निदेशक (संकार्य) श्री बी के तिवारी ने पर्यावरण, परियोजनाओं और कार्मिक विभाग की टीम को बधाई दी और प्लांट और टाउनशिप में सूखे और बायो-डिग्रेडेबल गीले कचरे के उचित पृथक्करण के लिए सभी को प्रोत्साहित किया।

पीएसयू समाचार
Scroll To Top